Zulm Shayari – ज़ुल्म इतना ना कर की लोग

ज़ुल्म इतना ना कर की लोग कहेँ तुझे दुश्मन मेरा,
हमने ज़माने को तुझे अपनी “जान” बता रख्खा हे..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *